Home>>Self-help>>EFT Tapping kya hota hai
Self-help

EFT Tapping kya hota hai

Introduction:

आज मैं आपको बताना चाहता हूं अधिक स्वास्थ जीवन पाने की एक आधुनिक और बेहतरीन तकनीक के बारे में जिसे EFT – ईएफ़टी टैपिंग के नाम से पूरे दुनिया भर में जाना जाता हैं।

जिसका उपयोग का शानदार नतीजे से डॉक्टर्स भी हैरान हैं। आज के इस पोस्ट में जानेंगे EFT तकनीक क्या होती हैं, कैसे काम करते हैं और यह हमारे जीवन में किस हदतक बेहतरी ला सकती हैं, इस विषय में।


EFT क्या होता हैं

EFT (ईएफ़टी टैपिंग) अब तक की सबसे बड़ी खोजों में से एक है और इसे आमतौर पर टैपिंग के रूप में जाना जाता है। इस तकनीक में शारीरिक दर्द या नकारात्मक भावनाओं जैसे डर अपराधबोध और चिंता या एक सीमित विश्वास की पहचान करना और फिर दोहन करना शामिल है।

कोई भी मानसिक तनाव हो,मन परेशान हो,शरीर में ऊर्जा की खपत हो, किसी भी तरह की दर्द या फिर परेशानी के लिए आप EFT tapping तकनीक का प्रोयोग कर सकते हैं।

जब हमारे मानसिक अवस्था उथल पुथल होती है, तो शरीर में तनाव बढ़ता है जिसके कारण शरीर में stress hormones कॉर्टिसोल की मात्रा अधिक हो जाती है, जो हमारे शरीर में बीमारियों का कारण बनता हैं।

EFT tapping से शरीर में ऊर्जा की प्रवाह सही रूप से होती है,जिसके कारण वो stress hormones का निस्कर्ष कम जाता हैं।

How it’s work

मैं सच में चकित हूं यह बताने में कि यह EFT tapping कितना शक्तिशाली है, मैंने जब खुद पर इसका प्रोयोग किया तो पाया कि यह सचमुच कितना शानदार तरीके से काम करता हैं। मैंने अपने ऊपर, अपने स्त्री और अपने माता पिता के पुराने जोड़ो के दर्द के ऊपर इस तकनिक का उपयोग कर हैरान कर देने वाला नतीजा पाया हैं।

साधारण शर के दर्द से लेकर पुराने से पुराना घुटनों का दर्द,पीठ दर्द, गर्दन का दर्द, किसी भी तरह की शारीरिक, मानसिक तनाव, पीड़ा या दुखद अनुभवों को जड़ से खत्म करने के लिए यह एक रामबाण उपाय हैं।



EFT कैसे काम करता हैं

Acupressure points + affirmations = EFT (Emotional Freedom Technique)

EFT tapping तकनीक में हम हमारे शरीर के meridian points में tapping करते है, जो की हमारे शरीर की ऊर्जा बिंदु होती है, उन ऊर्जा बिंदुओं पर tapping करते ही, ऊर्जा की किसी भी तरह की blockage दूर हो जाती हैं, और हमारे पूरे शरीर में energy का flow सही रूप से होना शुरू हो जाता हैं।

Tapping करने के साथ साथ हम लोग कुछ affirmation का प्रयोग भी करते हैं शरीर के ऊर्जा को सही दिशा देने के लिए।

EFT tapping points

पहली चीज जो आपको जानने की जरूरत है, वे नौ (meridian points) बिंदु हैं जिनका उपयोग हम पहले tapping करने में करते हैं,

• कराटे चॉप पॉइंट
• सिर के ऊपर
• आंखों के ऊपर जहां से भौं शुरू होती हैं
• आँखों के किनारे
• आँखों के नीचे
• नाक के नीचे
• ठोड़ी
• हंसली
• बांह के नीचे

EFT Tapping Points


1.कराटे चॉप पॉइंट:

कहा जाता है, यह हाथ के किनारे पर स्थित होता है, यह हाथ का वह हिस्सा होता है जो आपको कराटे चॉप वितरित करेगा। किसी भी हाथ पर टैप कर सकते हैं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता दूसरे हाथ की सभी चार अंगुलियों का उपयोग इस तरह से करें जब आप टैप कर रहे हों तो अन्य बिंदु सिर पर छाती और हाथ के नीचे हो।

2.सिर के ऊपर:

दूसरा मेरिडियन प्वाइंट आपके सिर के ऊपर होता है। बस अपने कानों के शीर्ष के बीच से एक रेखा खींचें और जहां वे मिलते हैं वह बिंदु है जहां पर टैप करना हैं – आप सभी चार अंगुलियों से टैप कर सकते हैं ।

3.आंखों के ऊपर जहां से भौं शुरू होती हैं:

इसके बाद आइब्रो पॉइंट है, दो अंगुलियों के साथ टैप करें जहां आपकी भौहें हैं। आंखों के ऊपर जहां से भौं शुरू होती हैं।

4.आँखों के किनारे:

इसके बाद अब आप अपनी आंख के बगल में जहां वह हड्डी है वोही दो अंगुलियों से टैप करें।

5. आँखों के नीचे:
फिर आंख के ठीक जो उभरी हुई हड्डी है उसपर सही से टैप करें, आप दोनों आंखों के नीचे टैप कर सकते हैं।

6.नाक के नीचे:

आप नाक के नीचे यहाँ उस छोटे से 90-डिग्री के कोण में हैं जहाँ आपकी नाक आपके होंठ से टकराती है वहीं टैप करें


7.ठोड़ी:

और फिर ठुड्डी पर इस फांक पर दाहिनी ओर और थोड़ा नीचे की ओर दबाव के साथ tapping करें।

8. हंसली:

और फिर कॉलरबोन दोनो बिन्दुओं पर 3 से 7 बार tapping करें।

9.बांह के नीचे:

फिर अंत में आर्म पॉइंट के 4 उंगली नीचे वाली हिस्सों में टैपिंग करें।

EFT कैसे करें

ध्यान रखें इस तकनीक को करने से पहले आपके शरीर में पर्याप्त मात्रा में पानी होना जरूर हैं। शरीर में पानी की मात्रा कम होने से इस तकनीक का असर कम होता हैं।

सबसे खूबसूरत बात EFT tapping का यह है – इसमें कोई बंधन नहीं हैं। आपको अगर इसमें 1% भी बिस्वास नहीं है, फिर भी यह काम करती हैं।

जितना भी पुराना भय, पुराना दुःख दर्द, चिंता,नाराजगी है – 3 मिनट का एक छबि बनाए। क्योंकि हमारा अवचेतन मन (subconscious mind) अनुभव और छबि की भाषा समझता हैं।

दिन में १-२-३-७ जितना बार चाहे अलग अलग समस्या के लिए आप EFT कर सकते हैं, लेकिन एकबार में बस एक ही समस्या को लें। खास कर रात को सोने से पहले और सबेरे उठकर जरूर करें।

EFT Process in hindi

अपने किसी भी एक समस्या को लें, मन लीजिए आपको नकारात्मक विचार बहुत आते हैं, या फिर आपके घुटनों में दर्द हैं, कमर दर्द हैं, मानसिक तनाव हैं, तो आप EFT tapping process कैसे करेंगे?

अपको इस तरह से कहना हैं,

-हालांकि मुझे नकारात्मक विचार बहुत आते है,फिर मैं खुद को गहराई से और पूरी तरह से स्वीकार करता हूं।
-हालांकि मेरे घुटनों में दर्द हैं,फिर मैं खुद को गहराई से और पूरी तरह से स्वीकार करता हूं।
-हालांकि में मानसिक तनाव से जूझ रहा हूं, फिर मैं खुद को गहराई से और पूरी तरह से स्वीकार करता हूं।
-हालांकि मेरे कमर में बहुत पुरानी दर्द हैं, फिर मैं खुद को गहराई से और पूरी तरह से स्वीकार करता हूं।
-हालांकि मेरे पैसों की तंगी हैं, फिर मैं खुद को गहराई से और पूरी तरह से स्वीकार करता हूं।

इस तरह से आप अपने किसी भी समस्या को कह कर अपने मौजूदा परिष्टिति को स्वीकार करना हैं। क्योंकि जब तक किसी चीज़ को हम स्वीकार नहीं करते, तब तक हम उस चीज से लड़ते रहते हैं मानसिक स्तर पर।

EFT tapping तकनीक में हम अपने समस्या को खुदसे कहते हैं, यानी अपने अवचेतन मन को यह संदेश देते है,के मुझे क्या समस्या है और फिर खुदको प्यार के भाव से स्वीकार करते हैं और शरीर के उन 9 हिस्सों में थप थापाते हैं।

जैसे ही हम ऐसा करते हैं, हमारे शरीर के उन मेरिडियन प्वाइंट से निकले ऊर्जा हमारे शरीर को एक्टिव कर देता हैं और फौरी तौर पर रिजल्ट देखने मिलता हैं।

Conclusion:

मैं चाहता हूं कि हर कोई इस EFT Tapping technique को सीखे और करे। स्वस्थ लोग हमेशा स्वस्थ
रहने के लिए और जिन्हें कोई भी बीमारी है वो दवाओं के साथ साथ इस तकनीक को कर सकते हैं। EFT कभी भी और कहीं भी किया जा सकता है। जो कुछ मिनटों में ही चमत्कारी असर दिखाता हैं।



FAQ:

What is EFT tapping technique?


EFT का मतलब भावनात्मक स्वतंत्रता तकनीक है, और उपयोगकर्ताओं का कहना है कि यह सरल तकनीक उन्हें जल्दी बेहतर महसूस करने में मदद करती है।

How does EFT tapping work?


EFT उन meridian points पर टैप करके काम करता है जिनके माध्यम से “जीवन ऊर्जा” शरीर में प्रवाहित होती है (मेरिडियन पॉइंट्स) रुकावटों को छोड़ने के लिए। ऊर्जा या मेरिडियन के ये विशिष्ट मार्ग संतुलन में मदद करते हैं।

What should I say during EFT tapping?


सामान्य वाक्यांश कहना होता है: “भले ही मेरे पास यह [डर या समस्या] है, फिर मैं खुद को गहराई से और पूरी तरह से स्वीकार करता हूं।” आप इस वाक्यांश को बदल सकते हैं अपनी समस्या के अनुकूल, लेकिन इसे किसी को संबोधित नहीं कर सकते।

How does EFT release negative energy?

मास्टर ब्रेन गैरी क्रेग ने खुलासा किया है कि EFT उपचार इस विचार से उभरा है कि सभी नकारात्मक भावनाओं का कारण शरीर की ऊर्जा प्रणाली में मौजूद होती है। EFT उन कथित मेरिडियन पॉइंट्स टैप करके काम करता है जिनके माध्यम से “जीवन ऊर्जा” शरीर में प्रवाहित होती है (मेरिडियन पॉइंट्स) रुकावटों को छोड़ने के लिए।

Copy link
Powered by Social Snap